घोटू के पद
लीन्हो वोटर मोल

माई री मै तो,लीन्हो वोटर मोल
सस्तो महंगो ,कछु नहीं देख्यो,दीन तिजोरी खोल
आश्वासन को शरबत पिलवा ,मुंह में मिसरी घोल
वादों की रबड़ी चटवाई , मीठो मीठो बोल
मगर विरोधी ,दल वाले सब ,पोल रहे है खोल
टी वी पेपर वाले भी सब,रहे उडाय मखौल
चमचे सारे ,खनक रहे है,मेरी तारीफ़ बोल
‘घोटू’ अब वोटर की मर्जी ,जब होवेगा ‘पोल ‘
ऊँट कौन करवट बैठेगा ,कोई सकत ना बोल

मदन मोहन बाहेती’घोटू’

Advertisements